फिश एक्वेरियम वास्तु दोष दूर करने में है मददगार

by | Feb 11, 2020 | Astrology | 0 comments

एस्ट्रोलॉजी में आजकल वास्तुशास्त्र के लिए भी अनेक चीज़ों का प्रयोग होने लगा है। जैसे आज के समय में कई घरों में फिश एक्वेरियम रखने का प्रचलन काफी बढ़ चुका है। फेंगशुई के अनुसार फिश एक्वेरियम न सिर्फ खुशी देता है बल्कि इसके घर के सदस्यों के ऊपर आने वाली सारी विपत्तियां टलती हैं। साथ ही घर में धन संपत्ति के आने की निरंतरता बनी रहती है और वास्तु दोष भी दूर होते हैं। आइये इस बारे में आपको और जानकारी दें।

इस दिशा में रखें फिश एक्वेरियम

बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपने घर में फिश एक्वेरियम तो रखते हैं लेकिन यह किस दिशा और कौन से स्थान पर रखा जाए ये उन्हें पता नहीं है। घर में फिश एक्वेरियम कहां और किस दिशा में रखना शुभ होता है ये जानना ज़रूरी हैं।

लोग घर पर एक्वेरियम तो रखते हैं, लेकिन बहुत कम लोगों को इसके नकारात्मक प्रभावों के बारे में पता होता है। वास्तु के अनुसार इनसे घर के सदस्यों के ऊपर आने वाली समस्त विपत्तियां टलती हैं। एवं घर में धन-संपत्ति के आगमन में निरंतरता बनी रहती है। लेकिन फेंगशुई के कुछ नियम हैं जिनका पालन करते हुए एक्वेरियम रखा जाए तभी इसका पूरा लाभ मिल पाता है। फिश एक्वेरियम रखने के दौरान वास्तु का ध्यान देना बहुत ज़रुरी है क्योंकि अगर इसे सही वास्तु के हिसाब से नहीं रखा गया तो फायदे की जगह इसके नुकसान हो सकते हैं।

वास्तुशास्त्र के हिसाब से फिश एक्वेरियम रखने से घर में खुशहाली आती है। फिश एक्वेरियम को घर के बीचों-बीच, रसोई घर या बैडरूम में कदापि न रखें। घर की पूर्वी या उत्तरी दिशा में रखें। घर में जहां सूर्य की रोशनी आती है, वहां फिश एक्वेरियम मानसिक दबाव को कम करता है। घर से मुख्य द्वार की तरफ देखेंगे तो इसके बायीं दिशा में रखने से वैवाहिक जीवन मधुर होता है, दायीं दिशा में रखने से पुरुष के एक्सट्रा अफेयर की संभावना बनती है।

निश्चित संख्या में रखें फिश एक्वेरियम में मछलियां

घर में एक निश्चित संख्या में ही मछली पाली जानी चाहिए. फिश एक्वेरियम इनकी संख्या 9 होनी चाहिए। अगर ऐसा संभव नहीं हो पा रहा है तो तीन मछलियां भी पाली जा सकती हैं। फिश एक्वेरियम में जिन 9 मछलियों को पाले उसमें रंगों का खास ख्याल रखें. ये सभी 9 मछलियां 9 ग्रहों का प्रतिनिधित्व करती हैं। इसलिए इनका रंग भी इन्ही ग्रहों से मिलता जुलता होना चाहिए यदि ऐसा संभव नहीं हो पा रहा है तो फिश एक्वेरियम में 8 मछलियां चमकीली रंग और एक मछली काले रंग की पालनी चाहिए।

फिश एक्वेरियम की मछलियों पर नजर रखें-मछलियां जितनी खुश रहेगीं, घर में सुख समृद्धि बनी रहेगी। अगर कोई मछली मर जाती है तो समझ लें कि जीवन में आने वाली किसी संकट को इस मछली ने अपने ऊपर ले लिया। मछलियां हर आने वाले संकट को अपने ऊपर ले लेती हैं।

फिश एक्वेरियम घर में वास्तु दोष दूर करता है

मछलियां घर में हों ओर इनकी देखभाल सही ढंग से की जाए, तो घर में खुशहाली ओर छोटी-बड़ी हर बला टल जाती है। मछलियों की सेवा करने से ग्रह मजबूत होते हैं। भाग्य मजबूत होता है. मनोकामना पूर्ण होती है। फिश एक्वेरियम को घर में रखते समय ध्यान रखें कि इसे हमेशा उस स्थान पर रखें जहां पर सूरज की सीधी किरणें पड़ती हों। इस तरह घर के आंतरिक वास्तु दोष दूर होते हैं।

फेंगशुई के अनुसार भी एक्वेरियम लाभकारी है

फेंगशुई के अनुसार एक्वेरियम में जब कोई मछली मरती है तो वह अपने साथ नकारात्मक शक्तियों को लेकर चली जाती है। वास्तु के अनुसार फिश एक्वेरियम को घर के बरामदे के साउथ वेस्ट कोने में रखना चाहिए और ये कोना ऐसा हो जिससे घर में आने वाले हर इंसान की नजर फिश एक्वेरियम पर पड़ सके।

एक्वेरियम की फिश की देखभाल बहुत ज़रूरी

अक्सर देखने में आता है कि लोग फिश एक्वेरियम घर में रख तो लेते हैं, लेकिन उसकी उचित देखभाल नहीं करते, इससे अनेक परेशानी होती हैं। साफ-सफाई नहीं रखने से मछलियों को कई तरह की बीमारियां लग सकती हैं। छोटी मछलियों को 24 घंटे में फिश फूड के चार-पांच दानों से ज्यादा न दें। हर महीने फिश टैंक को साफ करें ओर उसका एक-चौथाई पानी टैंक में रहने दें ओर बाकी पानी बदल दें। उसका फिल्ट्रेशन सिस्टम प्रोपर रखें। इसमें एंटी क्लोरीन की गोलियां डाल सकते हैं।

किचन में कभी भी फिश एक्वेरियम को नहीं रखना चाहिए क्योंकि इस दिशा में आग से जुडी चीजें होती है और आग अग्नि देवता का कारण है तथा फिश एक्वेरियम पानी से जुडी चीज है और आग तथा पानी एक दुसरे के शत्रु है, इसलिए फिश एक्वेरियम को कभी भी रसोईघर में नहीं रखना चाहिए।

किसी तरह की प्राकृतिक रोशनी में फिश एक्वेरियम को रखने से मानसिक तनाव पैदा होने लगता है।

अगर आप रोजाना घर में पली हुई मछलियों को चारा डालते है तो आपके कार्य में लगातार प्रगति होती है। वास्तु के अनुसार ये बहुत अच्छा होता है। आपको इसलिए घर में मछलियां रखनी चाहिए।

ची नामक ऊर्जा आती है

आपके घर में अगर मछलियां रहती है तो आपके घर में ची नाम की एक ऊर्जा आती है। इस ऊर्जा का काम आपकी सेहत और आपके धन को बढ़ाना होता है। इससे आपकी कई परेशानियां भी कम हो जाती है।

मछलियों की मौत है इस बात का संकेत

आपने जो मछलियां घर में पाली है अगर किसी कारणवश वो मछलियां एक्वेरियम में ही मर जाती है तो इसका मतलब ये होता है कि आपके घर से कोई बहुत बड़ी दिक्कत खत्म हो गई। मछलियां आने वाली मुसीबत खुद पर ले लेती है।

पैसो की कमी

आपको बता दें कि आपके घर मे अगर पैसों की तंगी और परेशानियां रहती है तो इसका कारण सिर्फ वास्तुदोष ही होता है। अगर आप अपने घर में मछलियां ले आते हैं तो आपकी इतनी समस्याओं से आपको छुटकारा मिल जाता है।

फिश एक्वेरियम के लाभ पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

इस तरह की अन्य जानकारी के लिए हमारे एस्ट्रोलॉजी सेक्शन को ज़रूर देखें। इसी तरह की जानकारी के लिए वामा टुडे के होरोस्कोप सेक्शन को ज़रूर विज़िट करें।