छोटे-से छाले भी बन सकते हैं माउथ कैंसर का कारण

by | Aug 12, 2019 | Cancer, Self Care | 0 comments

कैंसर से जुड़े अनेक प्रकार हैं, जिनके बारे में आम लोगों को पता भी नहीं होगा। जानकारी भले कम हो लेकिन सेल्फ केयर के अभाव में ये बड़ी संख्या में फैल रहा है। अब आप माउथ कैंसर की बात ही ले लीजिये। स्मोकिंग करने वाले या तंबाकू खाने वालों के अलावा आम इंसान भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। माउथ कैंसर कॉज़ेज़ केवल एक नहीं है। ऐसा नहीं है कि माउथ कैंसर ट्रीटमेंट संभव नहीं है। बन आपको सतर्क रहना है। माउथ कैंसर सिम्पटम्स को समझकर जल्द इसका उपचार करवाइए। इस विषय में अधिक जानकारी के लिए मैक्स हॉस्पिटल, वैशाली के कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉक्टर विकास गोस्वामी की सलाह पर गौर फरमाएं।

बढ़ती जा रही है माउथ कैंसर के मरीज़ों की संख्या

एक समय था जब कैंसर का नाम सुनते ही लोगों के मन में डर समा जाता था। लेकिन आजकल अत्याधुनिक इलाज के साथ व सही व सटीक जानकारी की बदौलत कैंसर को हराना आसान हो गया। माउथ कैंसर सबसे अधिक होने वाले कैंसर में से एक है। यह रोग मुंह के किसी भी भाग जैसे जीभ, होंठ, गाल और गले में भी हो सकता है।

माउथ कैंसर किसी को भी हो सकता है लेकिन ये अधिकतर पुरुषों को होता है। रिसर्च के अनुसार ये युवाओं में भी अधिक फैल रहा है। 25% से ज्यादा माउथ कैंसर उन्ही लोगों में पाया जाता है जो लोग धूम्रपान और तंबाकू का सेवन करते है।

जान पर भारी हो सकता है माउथ कैंसर

मैक्स हॉस्पिटल के कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉक्टर विकास गोस्वामी ने बताया कि एक छोटा-सा छाला जानलेवा साबित हो सकता है। अगर इसका समय रहते इलाज नहीं किया गया तो ये माउथ कैंसर का रूप ले लेता है। और इसमें लापरवाही करने से मरीज की जान भी जा सकती हैं। माउथ कैंसर सिम्पटम्स को अनदेखा करना आपको मौत के दरवाज़े पर खड़ा कर देता है।

एक नहीं अनेक हैं माउथ कैंसर कॉज़ेज़

ये तो सभी लोग जानते है कि कैंसर एक जानलेवा बीमारी है। माउथ कैंसर का कोई इलाज भी नहीं है। अगर हमे इस कैंसर से बचना है तो सबसे पहले तम्बाकू से बचना चाहिए। क्योंकि यही माउथ कैंसर का प्रमुख कारण है। अनहेल्थी खान-पान अपनाने से माउथ कैंसर हो सकता है। जीवनशैली से भी माउथ कैंसर हो सकता है। यह भी माउथ कैंसर कॉज़ेज़ की बड़ी वजह है।

अनुवांशिक कारणों से भी माउथ कैंसर संभव है।

तंबाकू का सेवन शराब की लत भी माउथ कैंसर को बढ़ावा देती है। हमने आपको बताया कि तंबाकू माउथ कैंसर कॉज़ेज़ की सबसे प्रमुख वजह है।

सतर्क होकर जानिए माउथ कैंसर सिम्पटम्स को

पानी ज़्यादा ना पीने से मुंह में छाला हो जाता है। परंतु अगर ये छाला किसी भी दवाई से ठीक ना हो तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। क्योंकि ये माउथ कैंसर भी हो सकता है। मुंह में लाल या सफेद धब्बे का होना माउथ कैंसर सिम्पटम्स हो सकता है। अगर बिना किसी कारण मुंह से खून निकलता है तो इसे हल्के में ना लें। क्योंकि ये भी माउथ कैंसर सिम्पटम्स होता है ।

कभी-कभी अधिक देर तक खाली पेट रहने से सांस में बदबू आना आम बात है। परंतु अगर हर समय सांस में बदबू आए तो डॉक्टर को दिखाए। मुंह के किसी भाग में अगर गठान महसूस हो तो सतर्क हो जाएं। खाना खाने या कोई चीज निगलने में दर्द हो तो ये टॉन्सिल हो सकता है। परंतु अगर यही दर्द बना रहे तो ये आम समस्या नही बल्कि गंभीर समस्या होती है। उम्र के साथ दांत ढीले हो जाते हैं। परंतु बिना किसी कारण कम उम्र में दांत टूटने लगें तो ये माउथ कैंसर सिम्पटम्स ही होता है।

संभव है माउथ कैंसर ट्रीटमेंट

कुछ मरीजो में जीभ, गाल में कैंसर हो जाता है जो निकाल दिया जाता है। इन रोगियों में गाल और होंठ विश्राम करने के लिए एक पुनर्निर्माण या प्लास्टिक सर्जरी की आवश्यकता होती है जो जांघ या अन्य भाग से ऊतक त्वचा निका ल कर बनाई जाती है। रेडियोथेरेपी का उपयोग कैंसर की कोशिकाओं को मारने के लिए होता है। किन्तु अगर कैंसर की अवस्था प्राम्भिक है इस थैरेपी से जल्दी आराम मिल जाता है। उपचार आम तौर पर तीन से सात सप्ताह के पाठ्यक्रम पर हर दिन दिया जाता है। आहार कैंसर के प्रसार की सीमा पर निर्भर करता है।

स्मोकिंग है माउथ कैंसर की सबसे बड़ी वजह

डॉक्टर विकास गोस्वामी ने बताया कि ये बीमारी अधिकतर उन लोगों में पाई जाती है जो ज़्यादा तंबाकू खाते हैं। इसलिए बुरी आदतों को जल्द से जल्द छोड दें। माउथ कैंसर में सबसे पहले मुंह में छाले हो जाते हैं। साथ ही साथ मुंह के अन्दर सूजन भी हो जाती है। जो कि आम छाले या सूजन की तरह जल्दी ठीक नहीं होता। मुंह के भीतरी हिस्से में छोटी-छोटी गांठ बनने लगती है। थूक निगलने या खाने-पीने में बहुत तकलीफ होती है। ऐसे में जल्द से जल्द किसी विशेषज्ञ से चेकअप जरूर करवायें।

माउथ कैंसर पर आधारित यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

कैंसर से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और सेल्फ केयर सेक्शन को ज़रूर देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के हेल्थ सेक्शन को भी ज़रूर विज़िट करें।

Dr. Vikas Goswami

Dr. Vikas Goswami

Cancer Expert

कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉक्टर विकास गोस्वामी