संक्रमण के समय ऑक्सीजन लेवल पर इस तरह रखें ध्यान

by | Sep 28, 2020 | Corona, Self Care | 0 comments

कोरोना के संकटकाल में फिलहाल ऑक्सीजन लेवल के बारे में जानकारी प्राप्त करना सबसे अधिक ज़रूरी है। इसलिए हम आपको ऑक्सीजन लेवल के बारे में कुछ जानकारी देने जा रहे हैं। अब आप यह भी सोचेंगे कि घर बैठे ऑक्सीजन लेवल के बारे में कैसे पता किया जाता है? लेकिन हम आपको यह बता देते हैं कि जब आपका ऑक्सीजन लेवल कम होने लगता है तो शरीर किसी न किसी तरह से इसका संकेत देता है। बस ज़रूरत है आपको समझने की। जो ऑक्सीजन लेवल कम होने पर दिखाई देते हैं। कभी अचानक हार्ट बीट का बढ़ जाना। शरीर में बहुत वीकनेस महसूस होना। एंग्ज़ायटी होना। साथ ही अगर आपको तेज़ हेडेक है तो इससे समझ जायेगा कि कहीं ना कहीं आपके शरीर में ऑक्सीजन का लेवल कम हो गया है। आइए इस बारे में आपको और जानकारी देते हैं।

शरीर में संतुलन बना रहता है ऑक्सीजन लेवल से

अब यह तो हमें बताने की आवश्यकता नहीं है कि ऑक्सीजन लेवल से आपके शरीर को क्या फायदा होता है। शरीर की प्रत्येक आवश्यक क्रियाएं ऑक्सीजन लेवल पर ही निर्भर करती हैं। यहां तक कि आपके शरीर का संतुलन भी ऑक्सीजन लेवल के कारण ही बना रहता है। खून में घुलकर ऑक्सीजन पूरे शरीर में फैल जाती है। और फिर शरीर के सभी आवश्यक कार्यों में सहयोग करती है। दिमाग में खून के साथ पहुंचकर ऑक्सीजन आपकी सोचने और समझने की क्षमता को मज़बूत बनाती है। उसी तरह से दिल का धड़कना, पाचन क्रिया का काम करना और अन्य सभी क्रियाएं ऑक्सीजन लेवल पर निर्भर करती हैं। शरीर में ऑक्सीजन की कमी होती है तो धीरे-धीरे हर क्रिया प्रभावित होने लगती है। और व्यक्ति की परेशानियां बढ़ती जाती हैं।

कोरोना के कारण ऑक्सीजन लेवल को जांचना आवश्यक है

जिस तरह से पूरी दुनिया में कोरोना का संकट बढ़ गया है। उसे देखकर लगता है कि इसके प्रति जितने ज़्यादा आप सतर्क रहेंगे उतना अच्छा होगा। आपको बता दें कि कोरोना का संबंध भी ऑक्सीजन लेवल से होता है। क्योंकि यह फेफड़ों को प्रभावित करने वाला रोग होता है। कोरोना की जांच करने के लिए डॉक्टर पहले रोगी के ऑक्सीजन लेवल को चेक करते हैं। जब यह सामान्य से कम होती है तो संभव है कि शरीर में ऑक्सीजन लेवल की कमी है। यह कमी केवल कोरोना के कारण नहीं होती है। हो सकता है आपको कोई और समस्या हो। लेकिन इससे पता चल जाएगा कि आपके शरीर में ऑक्सीजन की कमी क्यों है। समय पर इलाज मिलने पर आप जल्दी ठीक हो जाएंगे।

बढ़ जाती है हार्ट बीट

शरीर में जब भी ऑक्सीजन का लेवल कम होता है इसका सबसे ज़्यादा असर आपके दिल पर होता है। यही कारण है कि ऑक्सीजन लेवल कम होने पर हार्ट बीट बढ़ जाती है। क्योंकि आपके हार्ट को बहुत प्रयास करना पड़ता है। हार्टबीट के बढ़ने से व्यक्ति को घबराहट महसूस होती है। सोचने समझने की शक्ति धीरे-धीरे कम होने लगती है। वैसे हार्ट बीट बढ़ने के और भी कारण होते हैं। लेकिन अगर घबराहट के साथ आपकी हार्ट बीट बढ़ रही है और आपको अन्य लक्षण दिखाई दे रहे हैं। तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

वीकनेस महसूस होने लगती है

समझने वाली बात है कि जब आपका शरीर ऑक्सीजन की लेवल की कमी से लड़ेगा तो आपको वीकनेस भी महसूस होगी। वीकनेस के कारण आप किसी भी चीज़ में अपना ध्यान नहीं लगा पाते। छोटे से छोटे काम को करने में भी आप अपने आप को असमर्थ महसूस करते हैं। इसलिए आपको किसी भी कारण से भी वीकनेस महसूस हो रही है तो उसे नजरअंदाज़ न करें। और तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लेकर उसका इलाज करवाएं।

एंग्ज़ायटी मुसीबत में डाल देती है

इस दौरान सबसे ज़्यादा ज़रूरी है कि आप बिलकुल शांत बने रहें। क्योंकि ऑक्सीजन लेवल की कमी के कारण जो एंग्ज़ायटी पैदा होती है वह आपके लिए खतरनाक साबित हो सकती है। इससे आपका ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। जो आपके लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है। धीरे-धीरे लंबी सांसें लें। उसके बाद आराम से बिस्तर पर चले जाएं। संभव हो तो किसी एक बिंदु पर अपना ध्यान केंद्रित करने का प्रयास कीजिए। अच्छी बातों के बारे में सोचिए। क्योंकि एंग्ज़ायटी बढ़ने से आपको समस्या हो सकती है। लेकिन वहीं अगर आप शांत रहेंगे तो आप इस अवस्था से जल्दी बाहर निकल आएंगे। और फिर समय पर आपको डॉक्टर का उपचार भी मिल पाएगा।

हेडेक को अनदेखा न करें

वैसे तो हेडेक के बहुत सारे कारण होते हैं। लेकिन फिर भी शरीर में ऑक्सीजन लेवल कम होने पर हेडेक बढ़ जाता है। ऐसे में आप हेडेक को हल्के में न लें। मस्तिष्क में कम ऑक्सीजन जाने से भी हेडेक के रूप में लक्षण सामने आते हैं।

तो ऑक्सीजन लेवल कम होने पर इन लक्षणों को लेकर आप सतर्क रहें।

ऑक्सीजन लेवल की कमी से जुड़ा ये लेख आपको पसंद आया हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

कोरोना से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और सेल्फ केयर सेक्शन को देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के हेल्थ सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।