प्लाक कैसे खराब करते हैं दांतों की खूबसूरती?

by | Jun 15, 2020 | Dental Care, Self Care | 0 comments

डेंटल केयर में एक बड़ी परेशानी तब खड़ी हो जाती है जब प्लाक की समस्या होती है। इसके बारे में अक्सर लोग ज़्यादा नहीं जानते हैं। वैसे तो सभी दांतों को साफ़ करने के लिए सामान्य रूप से ब्रश करते हैं। लेकिन यदि फ्लॉस और माउथ वॉश पर भी ध्यान दें तो दांतों को अच्छा रखा जा सकता है। प्लाक से कैसे छुटकारा पाया सकता है और दांतों की खूबसूरती कैसे बनाई रखी जा सकती है? ये जानते हैं इंदौर के प्रसिद्ध सीनियर कंसल्टिंग डेंटिस्ट डॉक्टर रूपम तिवारी से।

क्यों ज़रुरी है प्लाक से बचना?

ओरल हेल्थ को लेकर लोग जागरूक हुए हैं। लेकिन फिर भी लोग डेंटिस्ट के पास तब जाते हैं जब समस्या बहुत बढ़ जाती है। जबकि कुछ बहुत सामान्य तरीकों से भी मुंह की कई समस्यायों से बचा जा सकता है। ऐसी ही एक समस्या प्लाक की है। लोग इसे गंभीरता से लेते ही नहीं हैं। अगर ध्यान दिया जाये तो इससे बचना आसान होता है।

आखिर होता क्या है प्लाक?

सबसे पहली बात तो यह कि प्लाक कोई अचम्भा नहीं हैं। जैसा हमने कहा कि लोग दांतों को लेकर इतने संजीदा नहीं होते। लेकिन जब समस्या बढ़ जाती है तो डॉक्टर के पास जाते हैं। आपको बता दें कि प्लाक एक सामान्य प्रक्रिया है। प्लाक एक चिपचिपी परत है जो मुंह के अंदर दांतों पर बैक्टीरिया के जमने से बनती है। यदि यह प्लाक लम्बे समय तक दांतों पर जमा रहे तो दांतों को गंभीर नुकसान हो सकता है। संभव है इससे आपके दांत खराब भी हो जाएं। बैक्टीरिया के पनपने से दांत कमज़ोर हो जाते हैं। और गम प्रॉब्लम यानी मसूढ़ों की बीमारी का कारण बन सकते हैं यहां एक महत्वपूर्ण बात यह भी है कि पेट की ही तरह मुंह में मौजूद सभी बैक्टीरिया भी स्वास्थ्य के लिहाज़ से खतरनाक नहीं होते। ऐसे में पूरी तरह बैक्टीरिया को खत्म कर देना भी ठीक नहीं। लेकिन ऐसे प्रयास किये जा सकते हैं जिनसे प्लाक को दांतों पर जमने से रोका जा सके।

फ्लॉस करना होता है सही

आप लोगों ने फ्लॉस के बारे में तो सुना होगा। हालांकि सुबह उठने के बाद और रात को सोने से पहले ब्रश करने की सलाह सभी विशेषज्ञ देते हैं। ऐसा इसलिए कहते हैं क्योंकि द्वारा खाया जाने वाला खाना जैसे जंक फूड, मसालेदार स्नैक्स, चाय-कॉफी आदि दांतों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। ये दांतों में जमकर प्लाक की स्थिति निर्मित करते हैं। इनके सेवन के बाद कम से कम कुल्ला अवश्य करें। इसके अलावा फ्लॉस का सही उपयोग और उंगलियों से मसूढ़ों की मालिश भी अच्छा उपाय है।

ब्रश से करें दांतों के बीच की सफाई

प्लाक कभी भी सिर्फ दांतों पर नहीं जमता। इसकी सबसे पसंदीदा जगह है दांतों के बीच। इसलिए ब्रश करते समय इस बात का ध्यान रखना आवश्यक है। केवल ब्रश करने भर से आप प्लाक को दांतों के बीच से हटा नहीं सकते। इसके लिए फ्लॉस जैसी चीजों का प्रयोग करना भी ज़रूरी है। ज़रूरी यह भी है कि आप पहले फ्लॉस के सही तरीके को समझें फिर उपयोग में लाएं। सॉफ्ट ब्रिसल्स वाले ब्रश का उपयोग करें और ब्रश को पूरे मुंह में घुमाते हुए हलके हाथों से ब्रश करें।

माउथवॉश से बनी रहेगी फ्रेशनेस

कुछ केसेस में माउथवॉश का प्रयोग प्लाक की समस्या में राहत दे सकता है। खासतौर पर एंटीबैक्टीरियल माउथवॉश का प्रयोग। लेकिन यह डॉक्टर की सलाह पर ही लिया जाना चाहिए। कोशिश करें कि साल में कम से कम एक बार डेंटिस्ट से दांतों की जांच अवश्य करवाएं। यदि आप डायबिटिक हैं, दांतों की किसी अन्य समस्या से ग्रसित हैं या ड्राय माउथ जैसी किसी समस्या के शिकार हैं तो ओरल हाइजीन को लेकर खास सतर्कता रखें।

शकर और एसिडिक भोजन

ये दोनों ही बैक्टीरिया के पसंदीदा भोजन हैं। जब आप भोजन करना बंद करते हैं तो मुंह में शकर, स्टार्च और एसिड से भरपूर मसालेदार भोजन के जो अंश बच जाते हैं वे इन बैक्टीरिया के पलने की वजह बनते हैं। जैसे कि चिप्स, चॉकलेट्स, मिठाई, सोडायुक्त ड्रिंक्स आदि। इसलिए अपने भोजन में इन चीजों की मात्रा कम करें। यदि आप इनका सेवन कर भी रहे हैं तो कोशिश करें कि इन्हें भोजन के बीच में या शुरुआत में खाएं और भोजन का अंत सलाद या फाइबर युक्त अन्य चीजों से करें। फिर भोजन के बाद तुरंत अच्छे से कुल्ला कर लें।

तो इन बातों का ध्यान रखें और दांतों की खूबसूरती बनाये रखें। प्लाक से दांतों को कैसे बचाया जा सकता है? इस विषय पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो आप इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

डेंटल केयर से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और सेल्फ केयर सेक्शन को ज़रुर देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के हेल्थ सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।

Dr. Rupam Tiwari

Dr. Rupam Tiwari

Senior Consultant Dentist, Indore