45 साल के बाद ये एक्सरसाइज़ दे सकती है नुकसान

by | Mar 13, 2020 | Diet & Fitness, Sports & Fitness | 0 comments

स्पोर्ट्स एंड फिटनेस हर उम्र के लिए सेहत का एक अच्छा विकल्प होता है। जब आप फिटनेस के एक ऊंचे स्तर पर होते हैं तो कुछ भी करना बुरा नहीं होता है। क्योंकि तब आपमें वो स्ट्रेंथ भी होती है और एनर्जी भी। लेकिन जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ें लगती है, शरीर उस तरह आपका साथ नहीं दे पाता है। भले ही आपकी फिटनेस कितनी अच्छी क्यों न हो। लेकिन सच्चाई यही है कि शरीर की भी एक सीमा होती है। चाहे आप कितने ही फिट क्यों न हों, लेकिन सही तरह से एक्सरसाइज़ करेंगे तो आपके लिए अच्छा होगा। संभव है कि कुछ गलत एक्सरसाइज़ करने से आपको गंभीर इंज्यूरी हो जाये। या ये भी हो सकता है कि आपकी मसल को किसी तरह का नुकसान पहुंचे। उम्र के साथ आपकी हार्ट हेल्थ के लिए भी कुछ वर्कआउट ठीक नहीं होते हैं। इसलिए ज़रूरी है कि आप उन्हें अवॉयड करें। वैसे भी आपका फिट रहना ज़रूरी है, जोश में आकर खुद को नुकसान पहुंचाना समझदारी नहीं है।

45 के बाद एक्सरसाइज़ की सीमा तय करें

जब तक आप 25-35 साल के हैं आपका शरीर आपका अच्छे से साथ देता है। इस समय आप हर तरह की एक्सरसाइज़ कर सकते हैं। लेकिन 45 के बाद आपकी मसल और हड्डियां उम्र के बदलाव में ढलने लगती हैं। इसलिए आपको एक्सरसाइज का जुनून नहीं होना चाहिए। इसकी एक सीमा तय करके आप खुद को सुरक्षित रख सकते हैं। इस समय आप अपनी सुविधा के अनुसार हर वर्कआउट का चयन करें। जैसे-जैसे आपका शरीर इसमें ढलता जायेगा आपको आसानी होगी। लेकिन आप यदि कठिन और भारी वर्कआउट करने का प्रयास करेंगे तो इससे आपको बड़ा नुकसान भी हो सकता है।

अपनी एक्सरसाइज़ में बदलाव करते रहें

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती जाती है, आपको एक्सरसाइज़ में बदलाव करना चाहिए। इसका मतलब है कि आपको अपनी एक्सरसाइज़ को आसान बना लेना चाहिए। अगर आप एक खिलाड़ी या फिटनेस फ्रीक नहीं हैं तो आपको हैवी एक्सरसाइज़ नहीं करना चाहिए। ऐसा नहीं है कि आसान एक्सरसाइज़ करके आप फिट नहीं रह सकते हैं।

पुश अप से हो सकती है सीरियस इंज्यूरी

बढ़ती उम्र में पुश अप करना खतरनाक हो सकता है। इसके कारण आपको सीरियस इंज्यूरी हो सकती है। जी हां किसी खतरनाक इंज्यूरी के होने से आपको लंबे समय तक बिस्तर पर भी रहना पड़ सकता है। पुश अप के अलावा लेग एक्सटेंशन जैसी एक्सरसाइज़ भी इंज्यूरी का कारण बन सकती है। इसलिए आपको इस बारे में सावधानी रखना चाहिए। किसी को देखकर या जोश में आकर तो आप एक्सरसाइज़ बिलकुल न करें।

ओवर कार्डियो वर्कआउट नुकसान पहुंचा सकते हैं हार्ट हेल्थ को

कार्डियो वर्कआउट आपकी सेहत के लिए अच्छे होते हैं। बल्कि कहा तो ये जाता है कि हार्ट हेल्थ में कार्डियो वर्कआउट का बड़ा हाथ होता है। लेकिन उम्र बढ़ने के साथ आपकी हार्ट हेल्थ में भी बड़े बदलाव होते हैं। इसलिए आपको उचित देख-रेख में ही कार्डियो वर्कआउट करना चाहिए। इंटेंस कार्डियो वर्कआउट आपकी हार्ट हेल्थ को बड़ा नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए सोच-समझकर इस तरह के वर्कआउट को अपने रूटीन में शामिल करें।

ध्यान रखें आपकी मसल को नुकसान न पहुंचे

एक प्रयास और भी कीजिये कि अपनी मसल को इस उम्र में सुरक्षित रखिये। क्योंकि अक्सर देखा जाता है कि बढ़ती उम्र में आपकी मसल कमज़ोर हो जाती है। अगर आप गलत एक्सरसाइज़ करते हैं तो संभव है इससे आपकी मसल को नुकसान पहुंचे। जैसे स्ट्रेचिंग करते समय आपकी मसल में गंभीर समस्या हो सकती है। बहुत उत्साह के साथ वर्कआउट करना अच्छी बात है। लेकिन मसल में किसी तरह की समस्या यदि एक बार हो जाती है तो उसे ठीक करना बहुत मुश्किल हो जाता है।

तो आप भी 45 साल के बाद एक्सरसाइज करते समय सावधानी रखें। इससे आपकी सेहत भी बनी रहेगी और आप सुरक्षित रहेंगे। 45 की उम्र के बाद इस तरह का वर्कआउट करें? इस विषय पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

स्पोर्ट्स एंड फिटनेस से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे डाइट एंड फिटनेस सेक्शन को ज़रूर देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के फिटनेस सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।