क्या आप जानते हैं व्रत में खाया जाने वाला साबूदाना कितना हेल्दी है?

by | Aug 12, 2020 | Diet & Fitness, Healthy Food | 0 comments

एक समय था जब व्रत के लिए केवल हेल्दी फ़ूड का उपयोग किया जाता था। लेकिन आजकल तो लोग व्रत के नाम पर अपने पेट के साथ अत्याचार करते हैं। वैसे तो साबूदाना खिचड़ी भी हेल्दी होती है। लेकिन अगर आप थोड़ी मात्रा में खाएं तभी। एक बात और वो ये कि साबूदाना आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। जी हां, भले ही साबूदाना खिचड़ी सबको सूट नहीं करती, लेकिन साबूदाना अकेले पेट के लिए बहुत अच्छा होता है। इससे न केवल आपकी बोन्स स्ट्रांग होती हैं। बल्कि शरीर की फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाने में भी ये बहुत मददगार होता है। इसमें लो फैट होने की वजह से इसे पचाना भी आसान होता है। एनर्जी से भरपूर ये फ़ूड आपके ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित रखता है। साथ ही एनीमिया के मरीज़ों के लिए भी साबूदाना बहुत अच्छा माना जाता है। कुल मिलाकर साबूदाना स्वास्थ्य के लिए बहुत उपयोगी होता है। साबूदाना खिचड़ी बहुत सारी चीज़ों से बनी होती है। इसलिए ये थोड़ी गरिष्ठ होती है। लेकिन आप दही के साथ इसका उपयोग करके देखिये। इससे ये पच भी आसानी से जाएगी और इसका स्वाद भी बढ़ जायेगा। खैर हम तो साबूदाने के फायदों के बारे में आपको बता रहे थे। चलिए फिर उसी जानकारी को आगे बढ़ाते हैं।

अनेक पोषक तत्वों से युक्त होता है साबूदाना

देखिये स्वाद में तो साबूदाना लाजवाब होता ही है। लेकिन इसके अलावा भी ये अनेक तरह के पोषक तत्वों से युक्त होता है। इसमें कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन और आयरन पाए जाते हैं। इसलिए इसे किसी भी रूप में उपयोग करना बहुत लाभकारी होता है। इसलिए तो इसे व्रत में भी खाया जा सकता है। आपको बता दें कि साबूदाना सैगो पाम नाम के पेड़ के तने के गूदे से बनकर तैयार होता है। अगर हम पहले समय की बात करें तो साबूदाना इतना अधिक प्रयोग में नहीं लाया जाता था। लेकिन समय के साथ इसकी मांग बढ़ती ही गई।

वज़न बढ़ाने में भी मददगार होता है साबूदाना

वैसे तो साबूदाने में लो फैट होता है। लेकिन फिर भी साबूदाना वज़न बढ़ाने में मददगार होता है। जैसे इसे खाते ही आप एनर्जी फील करने लग जाते हैं। इसलिए अगर आप वज़न बढ़ाना चाहते हैं तो आपके लिए साबूदाना परफेक्ट है। इसकी सबसे बड़ी खासियत ये है कि ये बहुत जल्दी पक भी जाता है। इससे आपके पेट में भी किसी तरह की कोई समस्या नहीं रहती है। अगर आप साबूदाने की खीर बनाकर खाते हैं तो इससे भी आपका वज़न बढ़ता है। बच्चों को भी आप ये खीर दे सकते हैं। यदि छोटे बच्चों को दस्त लग जाते हैं तो उन्हें साबूदाने का मांड ज़रूर देना चाहिए। इससे शरीर को एनर्जी मिलती है और दस्त में भी काफी आराम मिलता है।

लो फैट होने के कारण डाइटिंग में भी किया जा सकता है इस्तेमाल

जैसे ये वज़न बढ़ाने में इस्तेमाल होता है, वैसे ही वज़न घटाने में भी साबूदाना उपयोगी होता है। लो फैट होने से आप इसे अपनी डाइट में आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। जैसे आप डाइटिंग कर रहे हैं तो आप कम मूंगफली डालकर दही के साथ साबूदाना खिचड़ी खा सकते हैं। इससे आपको भूख भी ज़्यादा नहीं लगेगी और लो फैट होने से वज़न कम करने में भी मदद मिलेगी।

एनीमिया में भी बहुत काम आता है साबूदाना

लोगों को एनीमिया की समस्या होती है, उनके लिए भी साबूदाना बहुत उपयोगी होता है। जैसा हमने आपको बताया कि इसमें आयरन पाया जाता है। इस कारण ये लाल रक्त कणों को बढ़ाने में मदद करता है। खासकर जिन महिलाओं को एनीमिया की समस्या है उन्हें तो साबूदाना ज़रूर खाना चाहिए। इससे उन्हें काफी राहत मिलेगी। यदि एनीमिया का मरीज़ रोज़ साबूदाने का मांड पीता है तो उसमें आयरन की कमी दूर होने लगती है।

ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखता है साबूदाना

साबूदाने में पोटैशियम भी बहुतायत में पाया जाता है। इसके कारण ब्लड प्रेशर भी नियंत्रण में रहता है। जब ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है तो ब्लड सर्कुलेशन भी ठीक तरीके से होता है। इससे शरीर को काफी लाभ होता है। इसलिए आपको भी ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रखना है तो साबूदाना प्रयोग करें।

साबूदाने के लाभ पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

हेल्दी फ़ूड से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे डाइट एंड फिटनेस सेक्शन को देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के डाइट सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।