यीस्ट इन्फेक्शन : महिलाओं की तरह पुरुषों को भी हो सकती है समस्या

by | Nov 29, 2019 | Fungal Infection, Love & Relationship | 0 comments

यीस्ट इन्फेक्शन आपकी ठहरी ज़िंदगी में एक बड़ी समस्या बनकर आता है। ये सबको लगभग एक जैसी तकलीफ देता है। विशेष रूप से जब ये इन्फेक्शन आपके प्राइवेट पार्ट्स को प्रभावित करता है। जी हां महिलाओं की तरह पुरुषों को भी यीस्ट इन्फेक्शन परेशान करता है। पेनिस मतलब पुरुष लिंग में जब इन्फ़्लेमेशन बढ़ जाता है, तब इन्फेक्शन की स्थिति उत्पन्न होती है। सीधे शब्दों में आप इसे पेनिस इन्फेक्शन भी कह सकते हैं। इंटरकोर्स या फिर पर्सनल हाइजीन की कमी इस समस्या का कारण हो सकती है। लेकिन कई बार पुरुष शर्म या झिझक के चलते डॉक्टर से इसका उपचार नहीं करवाते हैं। इससे इन्फेक्शन कम होने की बजाय बढ़ता ही है। यही नहीं आपके पार्टनर तक भी ये बीमारी पहुंचने का खतरा होता है। समय रहते आप इस परेशानी का इलाज डॉक्टर से करवा लेते हैं तो यह जल्दी ठीक हो जाता है। यह समस्या क्यों होती है? इससे क्या परेशानियां होती हैं? और इसका क्या उपचार हो सकता है आइये जानते हैं।

क्या है यीस्ट इन्फेक्शन?

आप इसे फंगल इन्फेक्शन भी कह सकते हैं। आपको बता दें कि मनुष्य की त्वचा में इन्फेक्शन पैदा करने वाले जीवाणु या बैक्टीरिया हमेशा रहते हैं। खासतौर पर नमी वाले स्थान पर इनका जमाव अधिक होता है। कैंडीडा एल्बीकैंस सामान्य यीस्ट होते हैं। ये यीस्ट महिला और पुरुष दोनों के मुंह में होते हैं। साथ में आंतों में भी पाए जाते हैं। बस परिस्थितिवश यही यीस्ट इन्फेक्शन का कारण होते हैं।

शरीर में नमी वाले स्थान में अधिक होता है यीस्ट इन्फेक्शन

इस बारे में हम आपको पहले भी बता चुके हैं। जी हां यीस्ट इन्फेक्शन की संभावना उन स्थानों पर अधिक होती है जहां गीलापन या नमी हो। जैसे आपकी बगल, महिलाओं में स्तनों के नीचे वाला भाग और आपके प्राइवेट पार्ट्स। यदि आप इन स्थानों की सफाई पर ध्यान नहीं देते हैं तो यीस्ट इन्फेक्शन हो सकता है।

प्राइवेट पार्ट्स में बढ़ सकती है बीमारियों की आशंका

अगर आप यीस्ट इन्फेक्शन को अनदेखा करते हैं तो इससे अनेक बीमारियां जन्म ले सकती हैं। खासकर आपके प्राइवेट पार्ट्स में। वैसे भी प्राइवेट पार्ट्स बहुत नाज़ुक होते हैं। यदि आप सही तरीके से ध्यान नहीं रखेंगे तो आपकी परेशानी बढ़ जायेगी।

लिंग में इन्फ़्लेमेशन के रूप में सामने आते हैं लक्षण

जी हां मुख्य रूप से यीस्ट इन्फेक्शन के लक्षणों में लिंग में होने वाला इन्फ़्लेमेशन गंभीर होता है। किसी पुरुष को लंबे समय से लिंग के आगे वाले भाग में सूजन और इन्फ़्लेमेशन की शिकायत है। संभव है कि उसे यीस्ट इन्फेक्शन की समस्या हो। ये इन्फ़्लेमेशन बढ़कर पूरे लिंग को भी अपनी चपेट में ले सकता है। इसलिए इसका उपचार ज़रूरी है।

इंटरकोर्स के द्वारा आपके पार्टनर तक भी पहुंच सकती है ये बीमारी

किसी व्यक्ति को अगर यीस्ट इन्फेक्शन है तो इंटरकोर्स के द्वारा ये उसके पार्टनर को भी हो सकता है। इंटरकोर्स के समय एक पार्टनर अपनी समस्या दूसरे तक आसानी से पहुंचा देता है। इसी तरह महिला को यीस्ट इन्फेक्शन है तो इंटरकोर्स के माध्यम से वह उसके पार्टनर को भी हो सकता है। इसलिए इसका उपचार करवाना बहुत ज़रूरी है।

पेनिस इन्फेक्शन से बढ़ सकती हैं दूसरी परेशानियां

यदि आप पेनिस इन्फेक्शन का उपचार नहीं करवाते तो भविष्य में दूसरी परेशानियां हो सकती हैं। ये पेनिस इन्फेक्शन आपको यूरिन इन्फेक्शन जैसी समस्या भी दे सकता है। यही नहीं पेनिस इन्फेक्शन के कारण आपके वैवाहिक जीवन में भी परेशानियां आ सकती हैं। इसलिए इसे अनदेखा न करें।

पर्सनल हाइजीन का ध्यान रखें

पुरुषों को चाहिए कि यीस्ट इन्फेक्शन से बचने के लिए वो हाइजीन का ध्यान रखें। पर्सनल हाइजीन के चलते आप इस तरह की किसी भी परेशानी से बचे रहेंगे। इसके लिए आप अपने प्राइवेट पार्ट्स को अच्छे से साफ रखें। धुले हुए अंडरगारमेंट्स पहनें। इंटरकोर्स के बाद अपने निजी अंगों को अच्छे से साफ़ करें। ऐसे आपको अपने पर्सनल हाइजीन को बनाये रखना होगा।

तो आप भी यीस्ट इन्फेक्शन से बचे रहें और बिना परेशानी अपनी ज़िंदगी जियें। यीस्ट इन्फेक्शन के बारे में दी गई जानकारी आपको पसंद आई तो आप इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

फंगल इन्फेक्शन से जुड़ी जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और लव एंड रिलेशनशिप सेक्शन को भी ज़रूर देखें। इसी तरह की और जानकारी के लिए वामा टुडे के लव एंड लाइफ और हेल्थ सेक्शन को ज़रूर विज़िट करें।