ध्यान से लें सप्लीमेंट्स, हो सकती है परेशानी

by | Jun 13, 2020 | Medicines, Self Care | 0 comments

मेडिसिन्स को लेकर हम अक्सर लापरवाह हो जाते हैं। यही बात दवाइयों के सप्लीमेंट्स के साथ भी जुड़ी हुई है। आजकल तो हेल्थ सप्लीमेंट्स लेना एक आम बात हो चुकी है। अगर आप किसी डॉक्टर से पूछकर ऐसा करते हैं तो कोई समस्या नहीं। लेकिन यदि आप मन से सप्लीमेंट्स ले रहे हैं तो आपको बता दें कि इनके साइड इफ़ेक्ट भी होते हैं। क्योंकि हर दवाई के सेवन का समय, तरीका और मात्रा अलग हो सकता है। इसी तरह सप्लीमेंट्स और दवाइयों के संदर्भ में भी यह सावधानी रखना जरूरी है कि इनका सेवन कैसे करें। फिर संभव है कि ये सप्लीमेंट्स आपके ब्लड प्रेशर पर असर करें। या आप अगर डायबिटिक हैं तो आपको दूसरी तरह की कोई समस्या हो जाये। इस संबंध में जबलपुर की ख्यात डाइटिशियन और वेट लॉस स्पेशलिस्ट डॉक्टर रुपाली मित्तल आपको कुछ अहम जानकारी दे रही हैं।

मेडिसिन्स को लेकर लापरवाह न बनें

हमारी ये आम मानसिकता है कि कुछ समस्या हुई और दुकान जाकर मन से दवा ले आये। उसका बाद में क्या इफ़ेक्ट होगा इससे हमें कोई सरोकार नहीं। यही हाल सप्लीमेंट्स के साथ भी होता है। बिना किसी डॉक्टर की सलाह के अपने मन से किसी भी तरह की सप्लीमेंट्स आपको फायदे की जगह नुकसान दे सकते हैं। दवाइयों को लेकर हम में से अधिकतर लोग खुद आधे डॉक्टर बन जाते हैं, बजाय इस बात का पालन करने के कि डॉक्टर ने क्या कहा था उस दवाई के सेवन को लेकर। इस बात को जितना ध्यान रखेंगे आपके लिए अच्छा होगा।

सप्लीमेंट्स और मेडिसिन्स में क्या अंतर है?

इन दिनों सप्लीमेंट्स लेने का एक फैशन बना हुआ है। शरीर को फायदा देने के लिए लोग बड़ी संख्या में सप्लीमेंट्स का सेवन करते हैं। खासतौर पर तरह-तरह के विटामिन्स का। अब इसमें बहुत से लोग ऐसे हैं जो बिना डॉक्टर की सलाह लिए सप्लीमेंट्स का सेवन करते हैं। कई बार पता ही नहीं चलता और आप गंभीर बीमारियों का शिकार हो जाते हैं। इसलिए जब विटामिन्स का सेवन करें तो बिना डॉक्टर की सलाह के इन्हें प्रयोग न करें। दो प्रमुख बातों का ध्यान रखें।

हेल्थ सप्लीमेंट्स शरीर के साथ दिमाग को भी पहुंचा सकते हैं नुकसान

आपने किसी से सुना कि या पढ़ा कि अमुक हेल्थ सप्लीमेंट्स ऐसे लाभ पहुंचाते हैं और आपने लेना शुरु कर दिया। लेकिन आपको पता ही नहीं कि ये हेल्थ सप्लीमेंट्स आप पर कैसे असर करेंगे? कुछ दवाइयां और सप्लीमेंट्स शरीर पर एक जैसा असर कर सकते हैं। ऐसे में उनका सेवन एक साथ करने से नेगेटिव साइड इफेक्ट्स सामने आ सकते हैं। जैसे डिप्रेशन के इलाज के लिए दी जा रही एंटीडिप्रेसेंट्स जो कि दिमाग में एक रसायन सेरोटोनिन का स्तर बढ़ाती हैं। सेरोटोनिन आमतौर पर नींद, मूड तथा दर्द जैसी स्थितियों पर प्रभाव डालता है। एंटीडिप्रेसेंट्स के साथ इसी रसायन का स्तर बढ़ाने वाले सप्लीमेंट्स का प्रयोग सेरोटोनिन सिंड्रोम का कारण बन सकता है। ये तो एक उदाहरण है, आप इस तरह की न जाने कितनी हेल्थ सप्लीमेंट्स मन से लेते हैं।

ब्लड प्रेशर को फ्लकचुएट कर सकती हैं सप्लीमेंट्स

संभावना ये भी रहती है कि कुछ सप्लीमेंट्स आपके ब्लड प्रेशर पर नकारात्मक असर डालें। साथ ही कुछ सप्लीमेंट्स दवाओं के साथ लेने पर दवाओं के अच्छे असर को कम कर सकते हैं। उदाहरण के लिए कई बार आयरन सप्लीमेंट्स का प्रयोग कुछ ब्लड प्रेशर नियंत्रित रखने वाले दवाओं के साथ न करने के लिए कहा जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि एक साथ लिए जाने पर ये सप्लीमेंट शरीर में मेडिसिन के असर को परिवर्तित कर देते हैं। हो सकता है इन सप्लीमेंट्स से आपका ब्लड प्रेशर बढ़ जाये या कम हो जाये। दोनों ही स्थितियां ठीक नहीं होती हैं।

सप्लीमेंट्स के साइड इफ़ेक्ट को अनदेखा न करें

ये तो सुनिश्चित हो गया कि केवल दवाओं से ही नहीं बल्कि सप्लीमेंट्स से भी साइड इफ़ेक्ट हो सकते हैं। सप्लीमेंट्स की आवश्यकता किसी भी व्यक्ति को उसकी शारीरिक अवस्था के हिसाब से होती है। इसलिए ये डॉक्टर द्वारा ज़रूरत पड़ने पर प्रिस्क्राइब किये जाते हैं। अपने मन से इन्हें लेना स्वास्थ्य पर बुरा असर डाल सकता है। कई बार तो ये साइड इफ़ेक्ट इतने गंभीर हो सकते हैं कि व्यक्ति की जान भी जा सकती है। इससे विटामिन्स की शरीर में अधिकता भी हो सकती है और यह शरीर पर गंभीर असर डाल सकता है।

इसलिए यदि आप डायबिटीज़, थायरॉइड जैसी कोई दवा नियमित तौर पर ले रहे हैं और डॉक्टर ने चैकअप के दौरान किसी विटामिन की भी सलाह दी है तो उनसे जानकारी लें कि इन दवाओं को कितने अंतराल पर और कैसे लेना है। यदि कोई दवा और सप्लीमेंट साथ लेने के बाद आपको पेट में समस्या या अन्य लक्षण नजर आते हैं तो तुरंत उसका सेवन बंद कर दें और डॉक्टर से सम्पर्क करें। बच्चों के मामले में खास सतर्कता रखें। क्योंकि बच्चों का मेटाबॉलिज्म बहुत अलग तरह का होता है और यह अलग-अलग उम्र में अलग तरह से प्रतिक्रिया दे सकता है। इसलिए उनकी दवाइयों और सप्लीमेंट्स को लेकर डॉक्टर से पूरी जानकारी लें और उसका पालन करें। आपकी कोई सर्जरी हुई है तो ध्यान रखना और भी ज़रुरी है।

सप्लीमेंट्स और उनके दुष्प्रभाव पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आयी हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

मेडिसिन्स से जुडी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और सेल्फ केयर सेक्शन को ज़रूर देखें। इसके अलावा इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के हेल्थ सेक्शन को ज़रुर विज़िट करें।

Dr. Rupali Mittal

Dr. Rupali Mittal

Dietitian and Weight Loss Specialist, Jabalpur