कोरोना के बीच इस तरह करें बेबी प्लान

by | Jun 25, 2020 | Pregnancy & Parenting | 0 comments

प्रेग्नेंसी एंड पैरेंटिंग के भाव अब बदलने वाले हैं। नहीं आप गलत मत समझिये, इसका मतलब कुछ भी नकारात्मक नहीं है। इसका अर्थ है कि कोरोना के बाद सब चीज़ें बदल जाएंगी। ऐसे में हमारे जीवन जीने के तौर-तरीके भी बदलेंगे। अब ऐसे में आप बेबी प्लानिंग कर रहे हैं तो थोड़ी असमंजस तो होगी ही। इस संक्रमण ने जीवन में इतनी उलझनें पैदा कर दी हैं कि आगे क्या होगा किसी को पता नहीं। लेकिन घबराइए नहीं इसके बारे में भी आप किसी डॉक्टर से चर्चा कर सकते हैं। क्योंकि वह आपको हेल्दी लाइफस्टाइल से जुड़ी सारी जानकारी देंगे। इसके अलावा आपको खुश रखकर अपनी प्लानिंग करनी होगी। क्योंकि स्ट्रेस का असर आपकी हेल्थ पर होता है। आप चाहें तो मैडिटेशन का सहारा ले सकते हैं। लेकिन सबसे ज़रुरी पॉइंट है कंसल्ट डॉक्टर। क्योंकि फैमिली प्लान करने से पहले आपके डॉक्टर से बात करना आवश्यक होता है। आइये इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

अपने मन में दुविधा न रखें बेबी प्लानिंग से पहले

अगर आप बेबी प्लानिंग करना चाहते हैं तो किसी कन्फ्यूज़न के साथ आगे न बढ़ें। सबसे ज़रुरी है पति और पत्नी की आपसी सहमति। फ़िलहाल तो जैसे कोरोना का दौर चल रहा है ऐसे में आप सोच सकते हैं कि पता नहीं बेबी प्लानिंग अभी करना भी चाहिए या नहीं। क्योंकि आने वाला कल कैसा होगा कुछ कहा नहीं जा सकता है। इसलिए ऐसा कोई भी भ्रम अपने मन से निकाल दीजिये।

बेबी प्लानिंग से पहले हेल्थ चेकअप ज़रुर करवाएं

जब भी आप बेबी प्लानिंग के बारे में सोचें अपना कम्पलीट हेल्थ चेकअप करवाना न भूलें। हेल्थ चेकअप से आपको ये पता चल जायेगा कि आपको कोई समस्या तो नहीं। कोई इस तरह की समस्या जो आपको बाद में प्रेगनेंसी के समय परेशानी दे। इसलिए बेबी प्लानिंग से पहले पति और पत्नी दोनों को जांच करवा लेना चाहिए।

कॉउंसलर से कंसल्ट करें फैमिली प्लान करने से पहले

जी हां फैमिली प्लान करने से पहले आप एक बार किसी फैमिली कॉउंसलर से मिल लें। जैसे शादी से पहले आप सलाह करते हैं वैसे फैमिली प्लान करने से पहले भी करें। इससे आपको जितने भी डाउट होंगे दूर हो जायेंगे। फैमिली प्लान करते समय आपको अपनी आर्थिक और सामाजिक परिवेश को भी जानना होगा। क्योंकि अब समय बदल रहा है तो आपको सभी चीज़ें देखना होंगी।

प्रेग्नेंसी के समय न करें कोई कोताही

आप जब प्रेग्नेंसी के दौर से गुज़रें तो उस समय को तनाव में न जियें। क्योंकि प्रेग्नेंसी में स्ट्रेस लेना भी ठीक नहीं होता है। प्रेग्नेंसी में आपका खाना, सोना और अन्य बातें बहुत अहम होती हैं। इसलिए प्रेग्नेंसी के समय को अच्छे से गुज़ारें।

बदलते समय में बेबी प्लानिंग पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए हमारे प्रेग्नेंसी एंड पैरेंटिंग सेक्शन को देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के पैरेंटिंग सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।