पार्टनर की इन आदतों के साथ इस तरह कीजिये डील

by | Aug 6, 2020 | Love & Relationship | 0 comments

लव एंड रिलेशनशिप में अनेक ऐसे पड़ाव आते हैं जब आप अपने पार्टनर के साथ एक बुरे दौर से गुज़रते हैं। इसमें गलती किसी की नहीं होती है। बस कुछ आदतें होती हैं जो आपके रिलेशनशिप में उलझन पैदा कर देती हैं। इसमें आपके पार्टनर की भी भूमिका होती है। अगर आपकी कोई बुरी आदत है तो वो आपको पता होगी। लेकिन यदि पार्टनर की कुछ आदतें आपके बीच समस्या पैदा कर रही हैं तो उसे समझदारी से डील करें। जैसे पार्टनर का ओवर प्रोटेक्टिव होना या सेल्फ ऑब्सेशन होना। बात-बात में कम्प्लेन करना। या एक स्पाई मतलब जासूस की तरह बिहेव करना। ये सब बातें आपके रिश्तों को बुरी तरह से प्रभावित करती हैं। साथ ही यदि आप इन आदतों के कारण अपने पार्टनर के साथ सही डील नहीं कर पाएंगे तो समस्या बहुत ज़्यादा बढ़ सकती है। आइये जानते हैं कि आप परिस्थिति को कैसे संभाल सकते हैं।

पार्टनर की गलतियों को अनदेखा न करें

देखिये छोटी-मोटी गलतियां तो सबसे होती रहती हैं। लेकिन इसकी एक लिमिट होती है। खासकर पार्टनर के साथ आपको गलतियों को अवॉयड नहीं करना चाहिए। क्योंकि ये गलतियां ही आपके रिश्ते को कमज़ोर बनाती हैं। जब भी आपके पार्टनर से कोई भूल हो उसे प्यार से समझाइये। उसे ये बताइये कि इन गलतियों के कारण कितनी बड़ी परेशानियां खड़ी हो सकती हैं। इससे आपके पार्टनर को बात समझ में आएगी और आपके संबंध बेहतर बने रहेंगे।

स्पाई की तरह अपने पार्टनर पर नज़र रखना

आपने जासूसी के बारे में तो सुना होगा। अरे ये किसी फिल्म की बात नहीं हो रही है। अगर सच में आपका पार्टनर एक स्पाई की तरह बिहेव करने लग जाये तो? कहां हो? क्या कर रहे हो या रही हो? किसके साथ हो? कितने पैसे खर्च किये? खैर ये तो सवाल हैं। इसके अलावा आपका पार्टनर एक स्पाई बनकर आपका पीछा भी कर सकता है। यहां तक कि वो दूसरों को भी आपके पीछे लगा सकता है। तो ऐसे में आप तुरंत कोई निर्णय लीजिये। क्योंकि शक एक ऐसी बीमारी है जो रिश्तों को खोखला करती है। तो स्पाई पार्टनर को ये जता दें कि उनकी ये हरकत आपको पसंद नहीं और इससे रिश्ते खराब हो सकते हैं।

रिलेशनशिप को बहुत बांधकर न रखें

कुछ लोगों की आदत होती है कि वो आपसी रिश्तों को एक कैद में रखते हैं। ऐसा करने से रिलेशनशिप में इंसान घुटन महसूस करने लगता है। ज़ाहिर है ऐसे में आपके रिश्ते तो खराब होते ही हैं। रिलेशनशिप को मज़बूत बनाने के लिए थोड़ा समय दीजिये। इससे आप सहज रह पाएंगे। एक-दूसरे को स्पेस दे सकेंगे। अक्सर एक रिश्ते को बचाने के लिए आप थोड़े ज़्यादा जज़्बाती हो जाते हैं। इससे समस्याएं बढ़ने लगती हैं। इसलिए बेहतर है ऐसा होने न दें।

थोड़ा समय दें रिलेशनशिप को सेट होने में

जल्दबाज़ी हर तरह से मुश्किलें पैदा करती है। रिलेशनशिप में तो ऐसा कभी न करें। हो सकता है आपकी अरेंज मैरिज हुई हो। जिसके कारण आपको पार्टनर को समझने में उसके स्वभाव के साथ डील करने में समय लग रहा हो। लेकिन अगर आप जल्दबाज़ी में अपने पार्टनर के लिए कोई धारणा बना लेंगे तो ये आपके रिश्ते के लिए ठीक नहीं होगा। इससे आपके रिश्ते कभी भी अच्छे नहीं हो पायेंगे। इसलिए पहले अपने पार्टनर को समझें और फिर विचारकर किसी निर्णय पर जायें।

ओवर प्रोटेक्टिव होना

हर कपल एक-दूसरे के लिए प्रोटेक्टिव होता है। ये अच्छी बात है, लेकिन जब एक पार्टनर दूसरे के लिए ओवर प्रोटेक्टिव हो जाये तो समस्या बढ़ जाती है। ओवर प्रोटेक्टिव पार्टनर आपके लिए बिलकुल स्पेस नहीं छोड़ता है। हर समय वह केवल आपके बारे में ही सोचता है। ओवर प्रोटेक्टिव होने के कारण वह खुद पर भी ध्यान नहीं दे पाता है। ऐसे में आप उसे शांति से बैठाकर समझाएं। उसे बताएं कि उसका ओवर प्रोटेक्टिव होना रिश्तों के लिए सही नहीं है। यदि आप अकेले बात समझा नहीं पा रहे हैं तो इसमें किसी की मदद लीजिये। ये उलझन बहुत आसानी से सुलझ जाएगी।

सेल्फ ऑब्सेशन होना

कितने लोगों को ये समस्या होती है कि वो सेल्फ ऑब्सेशन का शिकार होते हैं। ऐसे में पार्टनर के लिए बड़ी समस्या खड़ी हो जाती है। सेल्फ ऑब्सेशन के कारण पार्टनर अपने अलावा किसी और के बारे में सोच ही नहीं पाता है। उसकी हर बात खुद से शुरू होती है और खुद पर खत्म होती है। सेल्फ ऑब्सेशन के चलते वह रिश्तों को जटिल बनाने लगता है। इससे रिश्तों में टकराव होता है। तो इस समस्या से आपके पार्टनर को बाहर निकालना आपकी ज़िम्मेदारी बन जाती है।

तो इस तरीके से आप भी अपने पार्टनर को समझें और समझाएं। इससे आपके रिश्तों में हमेशा मधुरता बनी रहेगी।

रिलेशनशिप पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

इसी तरह की जानकारी के लिए हमारे लव एंड रिलेशनशिप सेक्शन को देखें। में और जानने के लिए वामा टुडे के लव एंड लाइफ सेक्शन को भी ज़रूर विज़िट करें।