कब नुकसानदायक हो सकता है एग खानाॽ

by | Jul 20, 2019 | Self Care, Wellness | 0 comments

आपका आहार आपकी वेलनेस से जुड़ा हुआ है। कई बार पता ही नहीं चलता कि जो आप खा रहे हैं उसका आप पर क्या असर होता है। आप बाद यही सोचते रह जाते हैं कि आप तो अच्छा ही खा रहे हैं। लेकिन उसके बावजूद भी समस्याएं हो ही जाती हैं। अब एग के साथ भी यही किस्सा जुड़ा हुआ है। नहीं हम ये नहीं कहते कि अंडा नुकसान ही करता है। बल्कि ये तो कई लिहाज़ से फायदेमंद है। लेकिन फिर भी कुछ लोगों को इससे समस्या हो ही जाती है। आपको बता दें कि अंडे का पीला भाग या एग व्हाइट अलग-अलग परिस्थितियों में नुकसान करता है। अब ये परिस्थितियां कौन-सी हैं ये जानना आपके लिए ज़रूरी है। वैसे माना तो ये भी जाता है कि अंडा प्रोस्टेट कैंसर का कारण होता है। इसके अलावा पैरालिसिस या इनफर्टिलिटी भी इसके कारण हो सकती है। यह हाई कैलोरी से भरपूर होता है, तो इसके अलग नुकसान हैं। आइये इस बारे में आपको और विस्तार से बताएं।

कभी भी अधपका न खाएं एग

आपको जब भी एग खाना हो उसे अच्छे से पकाइए। इसका मतलब या तो आप कच्चा अंडा खाइए या पूरा पका हुआ। आधा कच्चा अंडा आपको नुकसान पहुंचा सकता है। आपको बता दें कि एग को ठीक से न पकाने पर इससे साल्मोनेला का खतरा रहता है। इसके अलावा इससे आपको फ़ूड प्वाइजनिंग भी हो सकता है। एक बात का और भी ध्यान रखे कि अंडे को अच्छी दुकान से लें वर्ना समस्या हो सकती है।

गर्म होती है एग की तासीर

ठंड के मौसम में तो आप एग आसानी से खा सकते हैं। क्योंकि इसकी तासीर गर्म होती है। जिससे आपके शरीर में गर्माहट बनी रहती है। यदि आपको गर्मी की शिकायत अधिक होती है तो आपको अंडे से परहेज़ करना चाहिए। क्योंकि कुछ लोगों को इसकी गर्मी बर्दाश्त नहीं होती और उन्हें समस्या हो जाती है। इसके कारण मुंहासे की परेशानी भी बढ़ सकती है। लेकिन सबके साथ ऐसा नहीं होता है। आपके साथ ऐसा है तो थोड़ा ध्यान से अंडे का सेवन करें।

अधिक लाभदायक है एग व्हाइट

वैसे ही कहा ही जाता है कि एग व्हाइट अधिक लाभकारी होता है। लेकिन लोगों को ये बात समझ में ही नहीं आती है। वो एग व्हाइट को छोड़कर अंडे की जर्दी खाना पसंद करते हैं। जबकि उन्हें एग व्हाइट से ज़्यादा फायदा होता है। अंडे के पीले भाग में अधिक फैट होते हैं, जो नुकसान कर सकते हैं। इसके अलावा उसमें पाया जाने वाला हाई कॉलेस्ट्रॉल भी नुकसान का कारण बन जाता है। खासकर दिल के मरीज़। लेकिन आप अगर रोज़ भी एग व्हाइट खा लेंगे तो कोई नुकसान नहीं होगा। एक चीज़ और भी कर सकते हैं आप। एग व्हाइट और पीले हिस्से को साथ में खाएं।

प्रोस्टेट कैंसर का बढ़ सकता है खतरा

ये संभव है कि जो लोग एग का बहुत अधिक सेवन करते हैं उन्हें प्रोस्टेट कैंसर हो सकता है। लेकिन इस विषय में भी कुछ विशेष परिस्थितियां काम करती हैं। दरअसल जिन लोगों को किडनी से जुड़ी समस्या होती है उनके लिए अंडे फ़ायदे की जगह नुकसान करते हैं। इस बात पर ध्यान न देने पर प्रोस्टेट कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। वैसे आप तो जानते ही हैं कि प्रोस्टेट कैंसर पुरुषों को ही ज़्यादा होता है। यदि आपको किडनी की समस्या है तो डॉक्टर से पूछे बिना एग न खाएं।

पैरालिसिस का कारण भी बन सकता है एग

इस बात को पढ़कर एकदम से डर नहीं जाइएगा। पहले इसे समझिये फिर कोई निर्णय लीजिये। ऐसा नहीं है कि आपने इसे खाया तो आपको पैरालिसिस हो गया। अरे ऐसा तो बिलकुल भी नहीं है। वास्तव में जब आपको उच्च रक्तचाप की बीमारी है तो एग नहीं खाना चाहिए। इसके अलावा हार्ट पेशेंट को भी अंडे खाने से परहेज़ करना चाहिए। हां इस अवस्था में पैरालिसिस ज़रूर हो सकता है। इसलिए डॉक्टर की सलाह लेना आवश्यक है।

पुरुषों में बढ़ सकती है इनफर्टिलिटी की समस्या

आपको हम पहले भी बता चुके हैं कि अंडे में ज़्यादा गर्मी होती है। इससे आपको इनफर्टिलिटी की समस्या हो सकती है। इसलिए कोशिश करें कि आप ज़्यादा एग न खाएं। जिन पुरुषों को बहुत ज़्यादा अंडे खाने की आदत होती है वह इनफर्टिलिटी का शिकार हो सकते हैं। अब हो सकता है आपको अपनी इनफर्टिलिटी का कारण ही समझ में न आ रहा हो। हम आपको अंडे खाने से मना नहीं कर रहे बस आप सोच-समझकर इसका सेवन करें। विशेषकर गंभीर बीमारियों की स्थिति में।

तो बस यही कहेंगे आपसे कि एग खाएं पर ध्यान से। अंडे के कुछ विपरीत प्रभावों पर आधारित यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

वेलनेस से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और सेल्फ केयर सेक्शन को ज़रूर देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के डाइट सेक्शन को ज़रूर विज़िट करें।