सुबह उठने के बाद आने वाली फेस स्वेलिंग हो सकती है इन बीमारियों का कारण

by | Sep 21, 2020 | Self Care, Wellness | 0 comments

वेलनेस का ख़्वाब सच करना इतना मुश्किल नहीं होता है। बस इसके लिए आवश्यक है स्वास्थ्य के प्रति आप सतर्क रहें। आपने अक्सर एक बात नोट की होगी कि सुबह उठने के बाद आपके चेहरे पर सूजन होती है। ये फेस स्वेलिंग क्यों हो जाती है, इस पर आपने कभी ध्यान नहीं दिया होगा। वैसे ये आवश्यक नहीं है कि आपको कोई बीमारी हो ही। लेकिन इस पर ध्यान न देना भी सही नहीं होता है। पफी आईज़ या चेहरे पर सूजन के अनेक कारण हो सकते हैं। ये एनीमिया का भी एक लक्षण हो सकता है। इसके अलावा ओवर स्लीपिंग के कारण भी ये समस्या हो सकती है। फैट का बढ़ना या इंसोम्निया भी चेहरे पर आई सूजन की एक वजह हो सकते हैं। अगर लगातार ये स्थिति बनी हुई है तो आपको एक बार डॉक्टर को दिखाना चाहिए। हो सकता है कोई बड़ी बात न हो, पर आप पूरी तरह निश्चिंत तो हो ही पाएंगे। आइये इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

उल्टे सोने से भी फेस स्वेलिंग हो सकती है

कुछ लोगों को उल्टा सोने की आदत होती है। इससे आपका ऊपरी भाग मतलब शरीर का ऊपरी हिस्सा दब जाता है। हो सकता है आपकी फेस स्वेलिंग उल्टा सोने की वजह से हो गई हो। अगर सुबह उठने के कुछ देर बाद यह फेस स्वेलिंग अपने आप ठीक हो जाती है तो फिर आपको डरने की कोई ज़रूरत नहीं। इससे बचने के लिए आप एक उपाय कर सकते हैं वह यह कि आप सीधा सोना शुरू कर दें। इससे आपके चेहरे पर कोई दबाव नहीं होगा और किसी तरह की स्वेलिंग भी नहीं आएगी। वैसे भी उल्टा सोने की आदत सही नहीं होती। आपको सीधा ही सोना चाहिए।

जहरीले कीड़े के काटने से भी हो सकती है फेस स्वेलिंग

रात में सोने के बाद यदि कोई ज़हरीला कीड़ा आपको काट ले तो इसके कारण भी फेस स्वेलिंग हो सकती है। हो सकता है चींटी ने ही आपको काट लिया हो जिसके कारण स्वेलिंग हुई हो। लेकिन इस तरह की फेस स्वेलिंग बहुत अधिक समय रहती नहीं है। इन्सेक्ट बाईट कुछ समय में ठीक हो जाती है। यदि ऐसा नहीं होता है तो आपको डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए।

पफी आईज़ होना सामान्य बात है

सोकर उठने के बाद कुछ लोगों की पफी आईज़ देखी जा सकती हैं। आपको एक बात और बता दें कि कुछ लोगों में सामान्य रूप से हेरिडिटी के कारण भी पफी आईज़ होती हैं। मौसम बदलने से भी पफी आईज़ हो सकती हैं। बहुत गर्मी या बहुत सर्दी होने से भी पफी आईज़ होने की संभावना बढ़ती है। ये भी सच है कि सूजी आंखें आपकी खूबसूरती को खराब करती हैं। लेकिन हर मौसम में सूजी आंखें और चेहरा हो तो आपको बेखबर नहीं रहना चाहिए।

एनीमिया भी एक कारण हो सकता है सूजे चेहरे का

आपको बता दें कि एनीमिया के कारण भी चेहरे पर सूजन आ सकती है। जिन लोगों में खून की कमी होती है उनके लिए ये सामान्य बात होती है। एनीमिया में अन्य लक्षणों के साथ ये समस्या भी आम होती है। अगर आपको फेस स्वेलिंग लगातार बनी हुई है तो आपको डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए। हो सकता है आपको एनीमिया की समस्या हो। इस परेशानी को अनदेखा करना ठीक नहीं है।

ओवर स्लीपिंग हो सकती है एक वजह

हो सकता है किसी दिन आप बहुत थक गए हों और ओवर स्लीपिंग के कारण फेस स्वेलिंग हो गयी हो। ये बहुत साधारण बात है। आवश्यकता से अधिक सोना मतलब ओवर स्लीपिंग आपके चेहरे के अलावा शरीर के अन्य हिस्सों में भी सूजन ला सकता है। लेकिन ओवर स्लीपिंग के कारण आई स्वेलिंग सुबह कुछ देर में उतर भी जाती है। ये किसी तरह की बीमारी नहीं होती है। जो लोग सुबह देर तक सोते हैं उन्हें ये समस्या हो सकती है।

इनसोम्निया भी चेहरे पर सूजन के लिए ज़िम्मेदार होता है

नींद न आना मतलब इनसोम्निया के कारण भी फेस स्वेलिंग हो सकती है। जब इनसोम्निया की समस्या शुरू होती है तो इसके बुरे प्रभाव के रूप में चेहरे की सूजन भी आती है। क्योंकि इनसोम्निया में व्यक्ति रात को सो नहीं पाता, इससे उसके सभी अंग और क्रियाएं प्रभावित होती हैं। इसलिए कहा जाता है कि अच्छी नींद लेना बहुत आवश्यक होता है। आपको नींद न आने की समस्या का उपचार करवाना ही चाहिए।

फैट बढ़ने से भी आती है स्वेलिंग

यदि आपका फैट बढ़ रहा है तो सोकर उठने के बाद स्वेलिंग भी आती है। जिन लोगों में फैट बहुत अधिक होता है उन्हें ये समस्या सामान्य रूप से होती ही है। फैट के कारण अनेक समस्या होती है। लेकिन इस तरह की सूजन पैरों और पेट पर भी आ सकती है। इसलिए वेट नहीं बल्कि फैट लॉस ज़रुरी होता है।

तो ये फेस स्वेलिंग के कुछ कारण हो सकते हैं। आप भी अपने चेहरे पर आई सूजन को नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते हैं। इसलिए डॉक्टर से सलाह अवश्य लीजिये।

फेस स्वेलिंग के कारणों पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

वेलनेस से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और सेल्फ केयर सेक्शन को देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए वामा टुडे के हेल्थ सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।