होली पर स्किन को दीजिये प्रोटेक्शन, बनाइये DIY नेचरल कलर्स

by | Mar 9, 2020 | Self Care, Wellness | 0 comments

हमारी वेलनेस और सुरक्षा एक बड़ा चैलेंज होती है। इसका ध्यान भी वैसे हमे खुद ही रखना पड़ता है। अब जैसे होली का त्यौहार है तो ज़रूरी है कि इस समय भी हम अपना प्रोटेक्शन बनाए रखें। जैसे बहुत सारे लोगों को इस समय रंगों से रिएक्शन हो जाता है। इसके कारण उन्हें बहुत सारी परेशानियां उठाना पड़ती हैं। इससे बचने के लिए आप DIY नेचरल कलर्स का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए आप बीटरूट और टर्मरिक का यूज़ कर सकते हैं। जी हां ये आपके घर में मौजूद चीज़ें ही हैं। इनकी मदद से आप खूबसूरत रंगों को बना सकते हैं। हां अप चारकोल की मदद से भी रंग बना सकते हैं। आइये जानते हैं ये हम कैसे कर सकते हैं?

होली सूनी है रंगों के बिना

अब आप होली की बात करें और वहां रंगों का ज़िक्र ही न हो ये कैसे हो सकता है? होली पर रंगों का ही विशेष महत्व होता है। लेकिन कुछ लोग होली पर डर के कारण रंगों से दूर ही रहते हैं। क्योंकि उन्हें रंगों से एलर्जी की समस्या हो जाती है। इस परिस्थिति में ऐसे नेचरल कलर्स का प्रयोग करना ही सबसे अच्छा होता है। तो आप सोचेंगे कैसे नेचरल कलर्स? तो आपको हम इस लेख में आगे बताते हैं।

खराब रंगों से होली खेलने पर हो सकती है गंभीर समस्या

अक्सर होली के बाद ऐसे हादसे सामने आते हैं जब खराब रंगों के कारण लोगों को समस्या होती है। कई बार लोग होली के रंगों में खराब केमिकल भी मिला देते हैं। इससे स्किन की इतनी गंभीर समस्या हो जाती है कि उसे ठीक होने में महीनों लग जाते हैं। इस तरह की किसी भी अवस्था से बचने के लिए ज़रूरी है कि सुरक्षित होली खेली जाये। इसके लिए आपको खुद भी थोड़ी मेहनत करनी होगी। आप इस होली अपने घर पर ही कुछ रंग बनाइये। जिनसे आपकी त्वचा को कोई नुकसान नहीं होगा।

नेचरल कलर्स बनाना है बहुत आसान

आप यदि ये सोच रहे हैं कि नेचरल कलर्स कैसे बनाये जा सकते हैं तो हम इसमें आपकी मदद करेंगे। नेचरल कलर्स बनाने के लिए आप घर में रखी चीज़ों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन नेचुरल कलर्स का उपयोग बच्चों से लेकर बड़े भी कर सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं इन्हें कैसे बनाना है?

बीटरूट का प्रयोग कर सकते हैं आप

अगर आप लाल या गुलाबी रंग बनाना चाहते हैं तो इसके लिए बीटरूट का प्रयोग करें। बीटरूट न केवल आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है बल्कि स्किन पर इसका बुरा असर भी नहीं होता। लाल रंग बनाने के लिए आप बीटरूट को सुखा लें। इसके बाद इसमें गुलाब की सूखी पत्तियों को भी इसमें डाल दें। आप चाहें तो इसमें लाल चंदन भी मिला सकते हैं। लीजिये तैयार है आपका लाल रंग।

टर्मरिक से बनायें पीला रंग

अब बारी पीले रंग की। इसके लिए आप टर्मरिक का प्रयोग कर सकते हैं। ये तो आप जानते ही हैं कि टर्मरिक आपकी स्किन के लिए कितनी अच्छी होती है। इसके अलावा आप सूरजमुखी के फूलों को सुखाकर भी उसमें टर्मरिक मिला सकते हैं। होली का ये पीला रंग आप आसानी से अपने घर बना सकते हैं।

चारकोल से भी बन सकता है होली का रंग

आप सोचेंगे चारकोल से होली का रंग कैसे बन सकता है तो हम आपको बताते हैं। देखिये आप चाहें तो चारकोल से ग्रे कलर बना सकते हैं। वैसे भी आजकल चारकोल को स्किन के बहुत सारे प्रोडक्ट्स में प्रयोग किया जाता है। इसके लिए आपको एक्टिवेटेड चारकोल को मुल्तानी मिट्टी के साथ मिलाना होगा। इस चारकोल कलर को पानी में मिलाकर लगायें, वर्ना ये उड़कर आपके मुंह पर आ सकता है।

तो इस तरह से आप अपने घर पर ही होली के ये रंग बना सकते हैं और एक सेफ होली का आनंद ले सकते हैं।

DIY होली कलर्स पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

वेलनेस से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ A-Z और सेल्फ केयर सेक्शन को ज़रूर देखें। इसके अलावा इसी तरह की जानकारी के लिए वामा टुडे के हेयर एंड स्किन केयर सेक्शन को भी ज़रूर विज़िट करें।